Blogging क्या है और Blogpost कैसे लिखे ? पूरी जानकारी

हेलो दोस्तों आप सबको मेरा प्यार भरा नमस्कार मै हु आपका दोस्त पियूष । और आज के इस आर्टिकल मै आपको बताने वाला हु की आप अपना पहला Blogpost कैसे लिखे ? यानि की How to Write a First Blogpost ? 

Advertisement

अगर आप भी अपना करिअर ब्लोगिंग में बनाना चाहते हो तो आपको एक अच्छा आर्टिकल लिखना होगा । और आपके ऑडियंस को समाज में आये ऐसा हो । तो आज के इस आर्टिकल में मै आपको कुछ टिप्स देने वाला हु जो आपको First Blogpost लिखने में काफी मदद करेंगे ।

आज हम एक ऐसे विषय पर आपको जानकारी देने वाले हैं जिसके बारे में काफी लोग जानना चाहते हैं और ये वो लोग हैं जिन्होंने अभी अभी नया blog बनाया है या फिर Blogging करना चाहते हैं।

अगर आपने ही विडियो नहीं देखा है उसे भी आप जरूर देखें उससे आपको ब्लॉक के बारे में आइडिया मिल जाएगा कि ये होता क्या है ब्लॉगिंग

Advertisement

पैसे कमाने का एक ऐसा जरिया है जिसमें आपका कोई बॉस नहीं होता जो आपको हर वक्त ये बताता रहे कि आपको क्या करना है कैसे करना है और कब करना है।

इस प्रोफेशन में आपका मालिक आप खुद ही होते हैं और इसमें काम करने की पूरी आजादी आपको मिलती है। इसलिए आज की युवा ब्लॉगिंग में अपना करियर बनाना पसंद करते हैं ताकि वो अपने हिसाब से काम कर सकें।

हालांकि अन्य प्रोफेशन की तरह ही ब्लॉगिंग में भी काफी मेहनत लगती है और उसमें ज्यादा से ज्यादा समय देना लाभदायक साबित होता है।

ब्लॉगिंग करने के लिए धैर्य की बहुत ही जरूरत होती है इसलिए आपको अपने काबिलियत पर भरोसा रखते हुए निरंतर काम करते हुए जाना है जब तक कि आपको सफलता नहीं मिल जाती।

अपना ब्लॉग तैयार करने के बाद जो चीज सबसे ज्यादा से जरूरी है वो है आपका पहला ब्लॉग पोस्ट क्योंकि जब कोई रीडर आपके ब्लॉग पर आएगा तो सबसे पहले वो आपका कंटेंट देखेगा कि आपने किस विषय के ऊपर क्या लिखा है।

इसीलिए ब्लॉगिंग में सफल होने के लिए आपको पता होना चाहिए कि आपको अपने ब्लॉग में क्या और कैसे लिखना है। अगर आपको भी ये सवाल परेशान हैं तो इस लेख को अंत तक पूरा से जरूर पढ़िए । हमें यकीन है कि आपको आपके सवाल के जवाब जरूर मिल जाएंगे।

  • ब्लॉग लिखने के लिए कौन सी बातों का ध्यान रखना होता है।

तो सबसे पहले हम जानेंगे कि ब्लॉग लिखने के लिए कौन सी बातों का ध्यान रखना होता है। जब कोई नया ब्लॉगर अपना ब्लॉग तैयार करता है तो उसके बाद उसका अगला कदम होता है ब्लॉग के लिए पोस्ट लिखना जिसे हम आर्टिकल भी कहते हैं।

असल में ये ब्लॉग पोस्ट होती क्या है। किसी भी ब्लॉग में कई सारे अलग अलग विषय पर आर्टिकल लिखे होते हैं उसे ही हम ब्लॉग पोस्ट कहते हैं।

ब्लॉग पोस्ट में टेक्स्ट , इमेज , ग्राफिक्स या विडियो के रूप में एक कंटेंट लिखे जाते हैं। आपने ब्लॉग चाहे किसी भी उद्देश्य से बनाया है पर्सनल काम के लिए या बिजनेस के लिए आपके ब्लॉग की कॉन्टेंट ब्लॉग की सफलता में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है।

किसी भी ब्लॉग का पहला पोस्ट ये बताता है कि उस ब्लॉग पर किस विषय के बारे में जानकारी मिलने वाली है।

जैसे टेक्नोलॉजी गैजेट्स रिव्यू स्पोर्ट्स हेल्थ एजुकेशन एंटरटेनमेंट साइन्स ब्लॉगिंग इंटरनेट आदि। आप चाहे किसी भी विषय के ऊपर अपना ब्लॉग बनाएं लेकिन आपको बस एक चीज का ध्यान रखना है कि आपका पहला पोस्ट को पढ़ने के बाद विजिटर की इच्छा करें कि वो आपके ब्लॉग पर दोबारा वापस आए और निराश होकर वापस न जाए।

यूजर को जो जानकारी चाहिए वो उसे आपके ब्लॉग पर मिले ऐसा काम करने की जरूरत है तभी आपका ब्लॉग पोस्ट गूगल के पहले पेज पर रैंक करेगा जिससे आपके ब्लॉग पर बेशुमार ट्रैफिक आना शुरू हो जाएगा।

  • ब्लॉग पर आर्टिकल कैसे लिखें ?

तो चलिए अब हम जानते हैं कि ब्लॉग पर आर्टिकल कैसे लिखें ब्लॉग बनाने से पहले ही लोग इसकी प्लैनिंग कर लेते हैं कि सबसे पहले आर्टिकल वो क्या और किस विषय के ऊपर लिखेंगे।

लेकिन जब लिखने की बारी आती है तो उस वक्त समझ नहीं आता कि शुरुआत कैसे करें। कौन सी जानकारी कब देनी है। आखिर में क्या लिखना है और हमारे आर्टिकल कितने शब्दों में होना चाहिए ये सारी समस्याएं उत्पन्न होने लगती है।

ब्लॉग बनाने से पहले आपने काफी रिसर्च किया होगा और आप भी अच्छी तरह से जानते होंगे कि गूगल उन्हें आजकल कुछ सर्च इंजन में टॉप करता है जिनका कॉन्टेंट यूनीक होने के साथ साथ लंबा यानी ज्यादा शब्द में होता है।

इसलिए शुरुआती दिनों में एक ब्लॉगर को आर्टिकल लिखते समय काफी तकलीफ उठानी पड़ती है। इसलिए आज हम आपके इन तकलीफों को कम करने के लिए कुछ जरूरी टिप्स देंगे जिसका उपयोग करके आप एक अच्छा और इंटरेक्टिव आर्टिकल लिख पाएंगे।

तो चलिए शुरू करते हैं आर्टिकल लिखने के लिए कुछ मजेदार टिप्स।

  • टॉपिक चूज करे जिसके सर्च वॉल्यूम ज्यादा है ।

कोई भी आजकल लिखने से पहले आपको एक ऐसे टॉपिक का चुनाव करना है जिसके बारे में बहुत कम लोगों ने लिखा है या फिर ऐसे टॉपिक्स के ऊपर लिखना है जिसका सर्च वॉल्यूम ज्यादा है।

सर्च वॉल्यूम का मतलब जिस विषय के बारे में लोग ज्यादा सर्च करते हैं कुछ ऐसी वेबसाइट हैं जहां पर मुफ्त में किसी भी टॉपिक का सर्च वॉल्यूम पता कर सकते हैं।

जैसे Semrush , गूगल ट्रेंड्स , गूगल कीवर्ड क्लीनर इत्यादि। इन वेबसाइट्स में आपको किसी एक टॉपिक का एवरेज मंथली सर्च बताया गया रहता है कि कितने प्रतिशत लोग उस टॉपिक के बारे में सर्च करते हैं।

साथ ही इनमें ये भी बताया गया होता है कि उस टॉपिक का कंपटीशन हाई , मीडियम या लो है। अगर उस टॉपिक का कॉम्पिटिशन हाई होगा।

आपका आर्टिकल गूगल में जल्दी रैंक नहीं कर सकेगा क्योंकि उसके ऊपर पहले से ही बड़े बड़े ब्लॉक्स आर्टिकल लिख चुके हैं इसलिए बेहतर होगा कि आप मीडियम या लो कॉम्पिटिशन वाला टॉपिक चूज करें जिसका सर्च वॉल्यूम भी हो और उसी पर आर्टिकल लिखें।

  • टॉपिक से रिलेटेड की कीवर्ड को सर्च करना है ।

टॉपिक चुनने के बाद आपको इस टॉपिक से रिलेटेड की कीवर्ड को सर्च करना जरूरी है ताकि आप उन कीवर्ड्स को अपने आर्टिकल में डाल सकें।

कीवर्ड्स को सर्च इसलिए आप उन्ही वेबसाइट्स का इस्तेमाल कर सकते हैं जिसके बारे में हमने आपको पहले वाले टिप्स में बताया है।

आपने टॉपिक चुन लिया उससे रिलेटेड की वर्ड्स भी चुन लिए। अब बारी आती है उस टॉपिक के बारे में पूरी जानकारी हासिल करने की।

वैसे तो आप उन्हीं आर्टिकल्स को ही चुनेंगे जिनके बारे में आपको ज्ञान है लेकिन उससे जुडी और भी जानकारी इकट्ठा करना भी आपके लिए जरूरी है ताकि आप अपने आर्टिकल में उस टॉपिक की पूरी जानकारी प्रदान कर सकें।

इसके लिए आपको उस टॉपिक से जुड़े 5 से 6 आर्टिकल दूसरे ब्लॉक्स से पढ़ने होंगे। यहां पर आपको एक बात का ध्यान रखना है कि आपको उनका आर्टिकल कॉपी पेस्ट नहीं करना बल्कि उनसे जानकारी हासिल करना है ।

और फिर उसे अपने शब्दों में यूनिक तरीके से लिखना है जिससे यूजर को पढ़ते वक्त पसंद आए टॉपिक से जुड़ी सारी जानकारी इकट्ठा करने के बाद आपको अपने आर्टिकल का एक्स स्‍ट्रक्‍चर बनाना है कि आप का मेन हेडिंग क्या होगा।

उसके बाद सब हेडिंग क्या होंगे और कहां कहां पर क्या जानकारी देनी नियत समय के बाद एक सरल रूप से लिखना है जिससे कि लोगों को आजकल पढने में अच्छा लगे और साथ ही सही जानकारी भी मिले।

एक बात का ख्याल रखें कि मेन हेडिंग लिखने से पहले आपको अपनी पोस्ट का इंट्रोडक्शन लिखना जरूरी है।

आप इंट्रो को पांच से सात लाइन तक ही रखें जिससे कि लोगों को ये समझ में आए कि इस आर्टिकल में किस विषय के बारे में जानकारी मिलने वाली है।

आपको अपने इंट्रो में टॉपिक से रिलेटिड कीवर्ड जो आपने पहले से सर्च करके रखा है उसका उपयोग यहां जरूर करें। इंट्रोडक्शन के बाद मेन हेडिंग लिखें।

उसके बाद सब हेडिंग लिखें। जैसे मान लीजिए अगर आपका मेन हेडिंग है कंप्यूटर क्या है तो आपका सब हेडिंग होगा कंप्यूटर का इतिहासकंप्यूटर के पार्ट्स , जनरेशन ऑफ कंप्यूटर्स इत्यादि पोस्ट से संबंधित कीवर्ड्स का उपयोग जरूर करें और उसकी वर्ड्स को बोल्ड में रखें ताकि आप का आर्टिकल गूगल पेज पर रैंक होने में आसान हो जाए।

  • आर्टिकल को कितने शब्दों में लिखना होगा ।

अब यहां पर सवाल आता है कि आपको अपने आर्टिकल को कितने शब्दों में लिखना होगा। वैसे इसके लिए कोई मापदंड तो जारी नहीं किया गया है लेकिन कई सारे शोधों से ये पता चला है कि गूगल और अन्य सर्च इंजन 600 से 2000 शब्दों में लिखे गए पोस्ट्स को ज्यादा प्रिफरेंस देते हैं इसलिए अच्छा होगा कि आप अपने आर्टिकल्स को कम से कम 600 शब्दों में जरूर लिखें।

अंत में जब सारी जानकारी पूरी हो जाए तो आप उसका छोटा सा कन्फ्यूजन भी लिख सकते हैं। आपके द्वारा लिखी गई कंटेंट के बारे में बताने के लिए कन्फ्यूजन लिखना जरूरी है।

चार से पांच लाइन के होना चाहिए। इस कन्फ्यूजन से रीडर को ही समझ में आना चाहिए कि आपने किन किन बातों को कवर किया है।

अगर उसे कोई पॉइंट छूट गया हो तो संभावना है कि वो ये देखने के लिए वापस आजकल बजाएंगे कि उन्होंने क्या मिस किया है।

आर्टिकल पूरा लिखने के बाद आपको अपने पोस्ट में एक इमेज भी डालनी होगी जो कि आपकी कंटेंट से संबंधित है इमेज आपको मुफ्त में जो उपलब्ध होती हैं उनका इस्तेमाल करना है वरना आपके ब्लॉग पर कॉपीराइट का इश्यू हो जाएगा।

इसलिए मुफ्त में डाउनलोड करने के लिए आप कुछ ऐसी वेबसाइट्स का इस्तमाल कर सकते हैं जहां से आपको इमेज डाउनलोड करने में कोई दिक्कत नहीं आएगी।

पिक्स , पिक्सल्स , पिक जंबो Unsplash जैसी कुछ वेबसाइट्स हैं जहां से आप फ्री इमेज डाउनलोड कर सकते हैं।

आप ये आर्टिकल लिख लिया मेन हेडिंग सब हेडिंग की वॉयस कन्क्लूजन दे दिया उसमें इमेज भी डाल दी बस हो गई आपका आर्टिकल तैयार ।

अब आपको इसे पब्लिश कर देना है और ज्यादा से ज्यादा ऑडियंस तक अपना कंटेंट पहुंचाने के लिए अपने आर्टिकल को सोशल मीडिया में शेयर करना है।

दोस्तो सिर्फ blog बना लेने से आप एक अच्छी ब्लॉगर नहीं बन सकते। उसके लिए आपको अपने ब्लॉग पर लगातार अच्छे अच्छे कंटेंट डालने की आवश्यकता है जिससे कि आपकी ऑडियंस आपके काम से खुश हो और उनकी सहायता भी हो सके।

ध्यान रहे कि आपको किसी दूसरे के ब्लॉग्स आर्टिकल को उठाकर अपने ब्लॉग पर नहीं डालना है बल्कि अपनी सोच और अपने शब्दों से आपको उसी टॉपिक पर एक अच्छा लेख लिखना है।

आर्टिकल लिखने में जल्दबाजी करने की भी कोई जरूरत नहीं है। आप जो भी लिखें चाहे उसमें जितना भी समय लगे आपको एक अच्छा और क्वालिटी कंटेंट ही प्रस्तुत करना है ।

तो उम्मीद करते हैं कि आप यह आर्टिकल पसंद आया होगा और इससे उन लोगों को भी फायदा मिलेगा जिन्हें आर्टिकल लिखने में परेशानी होती है या जिन्हें पता नहीं कि युनिक आर्टिकल कैसे लिखते हैं

वीडियो देखना न भूले ।

आर्टिकल लिखना कोई बड़ी बात नहीं। अच्छा आर्टिकल लिखना जिससे दूसरों की हेल्प हो सके ऐसे आर्टिकल से ही आप एक बेहतर ब्लॉगर बन सकते हैं। तो अगर आप इस आर्टिकल को ज्यादा से ज्यादा शेयर कीजिये की बाकी लोगों तक भी जानकारी पहुंच सके । धन्यवाद ।

यह भी पढ़े ।

1 . DRDO Scientist कैसे बने ?

2 . YouTube Channel पर Subscribers कैसे बढ़ाये ?

3 . Geologist कैसे बने ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *