Android Apps Developer कैसे बने ? |How to Become Android Apps Developer With Full Information?

दोस्तों स्वागत है आप सबका । मेरा नाम है पियूष और आज के इस लेख में हम आपको बताने वाले की आप एक अच्छा Android Apps Developer कैसे बने ? तो आप इस लेख को पुरे अंत तक जरूर पढ़े ।

आज मोबाइल एप्लीकेशन पूरी दुनिया पर सबसे ज्यादा इस्तेमाल किए जाने वाला और एक दूसरे को क्रेक करने वाली चीज है।

जैसे जैसे इसमें एडवांसमेंट आ रहा है वैसे वैसे लोगों को आपस में जुड़ने का नया नया तरीका दिख रहा है।

हर दिन जिन मोबाइल एप्लिकेशंस का हम इस्तेमाल कर रहे हैं । वो हमारे सोचने का तरीका बदल रही है। हमारे बिजनेस करने का तरीका बदल रहा है।

जिस तरह से हम कम्यूनिकेट करते हैं और अपने आपको एंटरटेन करते हैं । उसका तरीका बदल रहा है। यहां तक कि जिस तरह से दुनिया को देखते और नई चीजों को सीखते हैं ।

उसका भी तरीका बदल रहा है तो अगर इतने सारे चेंजेस के साथ आप यह सोचे कि मोबाइल ऐप डेवलपर की जॉब कैसी होगी और उसके लिए क्या क्या करना होगा ।

क्या क्वालिटीज होनी चाहिए तो आप सही जगह पर हैं। मोबाइल ऐप डेवलपर की जॉब आज के टाइम में वर्ल्ड की बेस्ट जॉब्स में से एक है।

आज किस लेख में हम इन सभी टॉपिक्स पर बात करेंगे और बताएंगे कि आप कैसे अपनी स्किल्स को इम्प्रूव करके एंड्रॉयड ऐप डिवेलपर बन सकते हैं ।

तो बने रहिए हमारे साथ। अंत तक शुरू तो लेख शुरू करने से पहले आप सभी का स्वागत है तो चलिए जानते हैं कि एंड्रोइड मोबाइल ऐप डिवेलप किसे कहते हैं और एक ऐप डिवेलपर क्यों बनना चाहिए।

एंड्रॉयड पर वो व्यक्ति होता है जो मोबाइल या डेस्कटॉप ऐप्लिकेशंस बनाता है । और वही ऐप हमारे दिन प्रतिदिन की एक्टिविटीज पर मदद करता है।

इसलिए अगर आप पूछते हैं कि वास्तव में एक एंड्रॉयड डिवेलपर कौन है तो हम कहेंगे कि वो एक सॉफ्टवेयर डेवलपर है जो एंड्रॉयड मोबाइल के लिए ऐप्लिकेशन डिजाइन करने में माहिर होता ह

ऐप डिवेलपर आसान ऐप्लिकेशन बना सकते हैं । और गेमिंग जैसे बड़े और हाट ऐप्लिकेशन भी जैसे PUB-GCendy Cresh आज के टाइम में एंड्रॉयड सिस्टम वर्ड स्मार्टफोन मार्केट में अपना बहुत बड़ा हिस्सा रहता है।

असल में जनवरी 2020 तक एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम OS दुनिया भर के लगभग 75 प्रतिशत स्मार्ट फोनों में इंस्टॉल्ड है।

इसलिए एक एंड्रॉयड ऐप डिवेलपर्स की जॉब आज के टाइम की जरूरत है । और इसका फ्यूचर बहुत ब्राइट है। इसके अलावा एंड्रॉयड प्लेटफॉर्म एक ओपन सोर्स प्लेटफॉर्म है।

एंड्रॉयड डेवलपर्स अपने एंड्रॉयड कम्यूनिटी में टिप्स ट्रिक्स और ट्यूटोरियल शेयर करते हैं । और क्योंकि गूगल साइन इन करने से आपको अपने आपको अन्य लोकेशन ऐड करने की जगह गूगल प्ले सर्विसेज पर मिल जाती है ।

जिससे एंड्रॉयड डिवेलपर्स पूरा ध्यान ऐप डिवेलपमेंट की कोर फंक्शनैलिटी को डिवेलप करने में लगा पाते हैं।

अगर आप अभी भी अपने करियर के बारे में सोच रहे हैं । तो एंड्रॉयड ऐप डेवलपर के तौर पर करियर शुरू करने का सबसे सही समय अभी है।

इसके अलावा कुछ और भी जरूरी बातें हैं जिनकी वजह से आप एक एंड्रॉयड ऐप डेवलपर बनने की सोच सकते हैं।

1 . लाइसेंस

जैसा कि हमने पहले बताया कि एंड्रॉयड एक ओपन सोर्स प्लेटफॉर्म है इसलिए इसकी पैकेज लाइसेंसिंग कॉस्ट बहुत कम है ।

जिसकी वजह से कम इन्वेस्टमेंट में ज्यादा ROI मतलब रिटर्न और इन्वेस्टमेंट मिल जाता है। एंड्रॉयड एक बड़ी कम्यूनिटी है जिसमें अगर ऐप में कोई दिक्कत आती है या इसके नए वर्जन निकालने में कोई समस्या होती है ।

तो आप सीधे डिवेलपर्स के साथ बातचीत करके अपनी समस्या सुलझा सकते हैं।

2 . Android Evolving Platform है ।

जो ऐप्लिकेशन बनाए गए हैं वे या तो बहुत ज्यादा लोकप्रियता प्राप्त कर रहे हैं । या गूगल प्ले स्टोर पर टॉप रेटेड हैं।

गूगल अपने फंक्शंस में हमेशा बदलाव करता रहता है । और हर बार नए वर्जन जारी करता है तो आपको हमेशा नए अपडेट्स के साथ कुछ न कुछ नया देखने को मिल जाता है।

इन updetes से आपको भी मौका मिलता है कि आप भी आपके ऐप्लिकेशन में भी कुछ नया जोड़ सके । 

3 . इजी टू अडॉप्ट और लर्न। Eazy To Adopt Learn

अगर आप सॉफ्टवेयर टेस्टिंग फुल डिवेलपमेंट जैसी किसी भी टेक्नॉलजी पर काम कर रहे हैं । तो आपको ही पता होगा कि java प्रोग्रामिंग लैंग्वेज जो कि सबसे आसान प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेस में से एक है कुछ सीखना और उसकी मदद से एप्लिकेशन बनाना कितना आसान है।

इसके अलावा ऐप डेवलपमेंट के लिए जितनी भी चीजें सीखनी पड़ती हैं वो सभी सीखना बहुत आसान है।

तो चलिए अब जानते हैं कि ऐप डेवलपर बनने के लिए कौन कौन सी स्किल्स होनी चाहिए। सबसे पहले तो एक ऐप डेवलपर बनने के लिए आपके पास कुछ टेक्निकल स्किल्स होनी चाहिए ।

जिसकी हम अभी चर्चा करेंगे। आप एंड्रॉयड डिवेलपमेंट किसी भी सिस्टम पर कर सकते हैं । फिर चाहे वो Mac हो या विंडोज़ PC हो या लिनक्स कंप्यूटर हो।

लेकिन जो चीज कंपल्सरी है वो है एक एंड्रॉयड डिवाइस क्योंकि आप जो भी ऐप बनाएंगे उसे रन करके देखने के लिए एक एंड्रॉयड फोन का होना जरूरी है।

अब जब आपके पास ही दोनों चीजें हैं तो चलिए जानते हैं कि एंड्रॉयड वर्ल्ड पर बनने के लिए क्या क्या सीखने की जरूरत है।

1 . जावा ( जावा )

एंड्रॉयड डिवेलपमेंट के लिए जो सबसे बेसिक प्रोग्रामिंग लैंग्वेज है वो java है। एक सफल एंड्रॉयड डिवेलपर होने के लिए आपको java कॉन्सेप्ट्स जैसे कि Loops , Lists , Variables और Control Structures की अच्छी समझ होनी चाहिए।

java आज सॉफ्टवेयर डिवेलपर्स द्वारा उपयोग की जाने वाली सबसे लोकप्रिय प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेस में से एक है । इसीलिए इसकी बेसिक के साथ साथ एडवांस नॉलेज आपको जरूर होनी चाहिए ।

2 . SQL

ऐसा केवल एंड्रॉइड ऐप्स के अंदर डेटाबेस को मैनेज करने के लिए आपको ऐप्स की। मूल बातें भी सीखनी होगी।

ऐसा केवल एक लैंग्वेज है जिसका इस्तेमाल ही जब में से इन्फर्मेशन निकालने अब ट्वीट करने या इन्फॉर्मेशन डिलीट करने के लिए किया जाता है।

डेटाबेस कई सारी डेटा का कलेक्शन होता है जिसे आप तौर पर कंप्यूटर सिस्टम जैसे इलेक्ट्रॉनिक्स रूप में स्टोर पर एक्सेस करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

3.  एंड्रॉइड सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट किट SDK और एंड्रॉयड स्टूडियो

एंड्रॉयड डिवेलपमेंट की सबसे बढ़िया बात ये है कि इसके जरूरी टूल्स बिल्कुल फ्री और इस्तेमाल करने में आसान होते हैं।

एंड्रॉयड SD के और एंड्रोइड स्टूडियो दोनों को मुफ्त में डाउनलोड किया जा सकता है। एंड्रॉयड स्टूडियो में प्रोग्राम है जिसमें डिवेलपर्स कोड लिखते हैं और इसे अलग अलग पैकेज और लाइब्रेरी में इकट्ठा करते हैं।

एंड्रॉयड SD के में सैंपल कोड सॉफ्टवेयर लाइब्रेरीज हैंडी कोडिंग टूल्स जैसी कई सारी चीजें होती हैं । जिसकी मदद से आप एंड्रॉयड एप्लिकेशन को बना सकते हैं और टेस्ट कर सकते हैं।

एंड्रॉयड के लिए ऐप बनाकर उसे गूगल प्ले पर पब्लिश करना भी बहुत आसान है। बस आपको गूगल प्ले पब्लिशर अकाउंट के लिए रजिस्टर करना है ।

जिसके लिए गूगल वॉलेट से ही आपको लगभग 25 डॉलर पे करने पड़ते हैं। एंड्रॉयड के लॉन्च चेकलिस्ट का पालन करना पड़ता है।

गूगल प्ले डिवेलपर कंसोल के माध्यम से आपको अपने बनाए गए ऐप्लिकेशन को वहां सब्मिट कर गूगल अप्रूवल की प्रतीक्षा करनी होती है।

4 . XML

प्रोग्रामिंग डेटा को डिस्क्राइब करने के लिए एक्सएमएल का उपयोग करते हैं। एक्सएमएल सिंटेक्स की बेसिक जानकारी एंड्रॉयड डवलपर की बहुत मदद करती है।

जब उन्हें यूजर इंटरफेस UI लेआउट डिजाइन करना हो या इंटरनेट से डेटा फीड करना हो ऐप डेवलपमेंट में XML के लिए आपको जिस चीज की जरूरत होती है ।

उनमें से ज्यादातर को आप एंड्रॉयड स्टूडियो के माध्यम से कट सकते हैं लेकिन बेसिक मां कपलिंग के लिए इसकी जानकारी होना जरूरी है।

  • एंड्रॉयड ऐप डेवलपर बनने के लिए एजुकेशन रिक्वायरमेंट क्या है । 

तो चलिए जानते है कि एक एंड्रॉयड ऐप डेवलपर बनने के लिए एजुकेशन रिक्वायरमेंट क्या है। कुछ बेसिक चीजें सीख कर कोई भी ऐप डिवेलपर बन सकता है ।

लेकिन अगर आप बड़ी कंपनी में अपनी क्वालिफिकेशन के आधार पर जॉब करना चाहते हैं तो आपको कंप्यूटर साइंस या सेवाओं के डिवेलपमेंट में डिग्री कोर्स करना होगा।

इसके साथ ही जो चीजें आपको पहले बताएंगी उन चीजों को सीखकर आपको अपने कोर्स के दौरान ही इंटर्नशिप कर लेनी है ।

ताकि आपके पास अपना कोर्स खत्म करने से पहले ही एक्सपीरियंस हो जाए और कैंपस प्लेसमेंट में आपके पास ज्यादा मौका रहे सिलेक्ट होने का ।

चलिए जानते हैं कि इनके अलावा और कौन कौन सी स्किल्स एक एंड्रॉयड ऐप डिवेलपर में होनी चाहिए।

1 . एंड्रॉयड डिवेलपर्स के लिए कई तरह के इंस्टिट्यूट्स हैं जहां से आप अपनी स्किल्स को शॉप कर सकते हैं।

इसके अलावा यूट्यूब से भी कई तरह की नई नई चीजें सीख सकते हैं। आपको हमेशा अपटूडेट रहना चाहिए।

नई नई टेक्नॉलजी और एंड्रॉयड की फीचर से। जाहिर सी बात है कि आप अपने में कोई स्किल डिवेलपमेंट कर रहे हैं तो आप ये भी चाहेंगे कि आपको अच्छी से अच्छी जॉब मिले उसके लिए ।

आपको अपनी स्किल्स को लोगों और खासकर प्रफेशनल्स के सामने रखना होगा। आप अपने एंड्राइड काम को Linkedin , Xing जैसे आनलाइन प्लेटफॉर्म्स पर डालें ।

जहां आप काम प्रफेशनल्स के सामने आएं और आपका एक अच्छा पोर्टफोलियो भी तैयार होगा। इसके अलावा क्योंकि आपके ऐप्लिकेशन डिवेलपर हैं ।

तो आपको Behance और GitHub जैसी साइट्स पर भी अपने काम को पब्लिश करना चाहिए।

आपको सोशल नेटवर्क से जुड़ना चाहिए क्योंकि वहीं से आप प्रैक्टिकल नॉलेज ले पाएंगे और हो सकता है वहीं से आपको आपके मन का कोई काम भी मिल जाए।

2 . जब आप पहली बार एंड्रॉयड ऐप डिवेलपर बनने की सोचते हैं । तो आपको कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

आपसे कई तरह की गलतियां होती हैं। ऐसे में उन गलतियों को पहचानने और उन्हें सुधारने के लिए आपको प्रफेशनल्स की जरूरत होती है और क्यूंकि एंड्रॉयड ओपन सोर्स होता है ।

इसलिए एंड्राइड डिवेलपर्स GitHub पर पोस्ट क्लाउड ऑपरेटेड लाइब्रेरीज और फ्रेम वर्क से फायदा ले सकते हैं।

3 .  एक डिवेलपर की जॉब के लिए सहयोग बहुत जरूरी चीज है। यहां तक की अगर आप किसी प्रोजेक्ट पर अकेले काम कर रही हैं तो भी आपको कई बार दूसरों के साथ की जरूरत होती है।

जैसे डिजाइनर्स , मार्केटर्स और अपर मैनेजमेंट। अपने काम पर फीडबैक से डरें नहीं और नए प्रोजेक्ट्स पर दूसरों के साथ मिलकर काम करें।

इन सारी क्वालिटीज हर फील्ड में आगे बढ़ने के लिए जरूरी है। ये आपको दूसरे लोगों से अलग करेंगे और आपको हेल्प करेगी।

  • Android Apps Developer जॉब रोल्स । 

एक नया गोल अचीव करने में तो चलिए जानते हैं कि एक एंड्रॉयड ऐप डिवेलपमेंट सीखकर आप कौन कौन से जॉब रोल्स कर सकते हैं।

एक एंड्रॉयड एप डिवेलपमेंट कर आप Mobile App Developer , Android Engineer , Mobile Architect Embedded Software Engineer Of Mobile , Lead Software Engineer Of Mobile , Android Developer , Android Engineer , Mobile Developer बन सकते हैं।

दोस्तों तो हमें उम्मीद है कि आप हमारा यह लेख बहुत पसंद आया होगा। हम पूरी कोशिश करते हैं कि आपको एक ही लेख में पूरी जानकारी दे सके।

अगर आपके इस लेख से संबंधित कुछ सवाल हैं जो आप हमसे पूछना चाहते हैं तो हमें कमेंट करके आप अपने सवाल पूछ सकते हैं। हम आपके सभी सवालों के जवाब देना चाहेंगे । धन्यवाद |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *